ट्रंप ने भारत और चीन को दी धमकी, अमेरिकी सामानों पर न लगाये ज्यादा टैक्स

0
3387

नई दिल्ली. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत और चीन को धमकी दी है कि अगर अमेरिकी सामानों पर टैक्स कम नहीं किया गया तो वे भी उतना ही टैक्स लगाएंगे. ट्रंप ने कहा कि अमेरिका दूसरे देशों से आयातित समानों पर बहुत कम टैक्स लगाता है, लेकिन दूसरे देश हमारे सामानों पर ज्यादा टैक्स लगाते हैं. ट्रंप ने धमकी भरे लहजे में कहा कि दूसरे देश टैक्स कम नहीं करेंगे तो हम भी जवाबी टैक्स लगाएंगे.

पहले भी उठा चुके हैं ये मुद्दा
ट्रंप पहले भी इस मुद्दे को कई बार उठा चुकें हैं. उन्होंने कई बार अमेरिका से आयातित महंगी मोटरसाइकिल हार्ले डेविडसन पर करीब 50 प्रतिशत शुल्क लगाने का मुद्दा उठाया है. उन्होंने बार-बार जोर दिया कि अमेरिका भारत से आयातित मोटरसाइकिल पर शून्य शुल्क लगाता है. ट्रंप ने कहा कि हम किसी न किसी समय जवाबी कर योजना अपनाएंगे. अगर चीन हम पर 25 प्रतिशत कर लगाता है या भारत 75 प्रतिशत शुल्क लगाता है, और हम उन पर कोई शुल्क नहीं लगाते. उन्होंने इस्पात पर 25 प्रतिशत तथा एल्युमीनियम पर 10 प्रतिशत आयात शुल्क लगाया है.

निष्पक्ष व्यवहार न करने का लगाया आरोप
ट्रंप ने कहा कि अगर वे 50 प्रतिशत या 75 प्रतिशत या फिर 25 प्रतिशत कर लगाते हैं तो हम भी उतना ही कर लगाएंगे. इस तरह वे हम पर 50 प्रतिशत शुल्क लगाते हैं तो हम भी उन पर 50 प्रतिशत शुल्क लगाएंगे. उन्होंने कहा कि उनके प्रशासन के पहले साल में ही जवाबी कर का मंच तैयार हो गया था. ट्रंप ने कहा कि अमेरिकी कंपनियों के साथ अन्य देश निष्पक्ष व्यवहार नहीं करते हैं.

ट्रेड वॉर की बढ़ी आशंका
ट्रंप के इस फैसले के बाद दुनियाभर में चिंता का माहौल पसर गया है. इससे ट्रेड वॉर की आशंका बढ़ गई है. चीन ने इसका पुरजोर विरोध किया है. चीन पहले ही कह चुका है कि ट्रेड वॉर कभी भी फायदेमंद नहीं होता. फ्रांस ने भी इसको लेकर नाराजगी जताई है. ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि ट्रेड वॉर का माहौल पैदा हो सकता है.

भारत पर इसका क्या असर?
भारत पर इसका ज्यादा असर नहीं होगा. दरअसल भारत के कुल एक्सपोर्ट में अमेरिका की हिस्सेदारी सिर्फ 2 फीसदी है. हालांकि इस फैसले के बाद भारत में स्टील की सप्लाई बढ़ सकती है. विशेषज्ञों ने चिंता जताई है कि ट्रंप के ऐसा कदम उठाने से पहले जो स्टील अमेरकिा जा रहा था, वह भारत में भेजा सकता है. ऐसे में भारत एंटी-डंपिंग ड्यूटी पर गौर करना होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here