मूर्तियां तोड़ने पर सियासत तेज, कमल हासन भी कूदे

0
1624

नई दिल्ली. एक दूसरे के आदर्शों की मूर्तियां तोड़ने की घटनाओं ने देश में सियासत तेज हो गई है. प्रधानमंत्री की नाराजगी के बाद गृह मंत्रालय हरकत में है. तो इस बीच उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू और बीजेपी चीफ अमित शाह समेत कई दलों के नेताओं ने इन घटनाओं की निंदा की है. नायडू ने राज्यसभा में मूर्ति तोड़ने वाले को मैड कहा है. उन्होंने कहा कि मूर्ति तोड़ने वाले मैड हैं और हंगामा करने वाले बैड है. बीजेपी चीफ शाह ने साफ किया कि पार्टी मूर्ति तोड़ने की घटनाओं का समर्थन नहीं करते हैं. मूर्ति तोड़ने की घटनाएं दुखद हैं.

इस बीच मूर्ति विवाद में ऐक्टर से नेता बने कमल हासन भी कूद गए हैं. हासन ने बुधवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बीजेपी पर तंज कसा. हासन ने कहा, ‘पेरियार की मूर्ति को बचाने की जरूरत नहीं है. बीजेपी एच राजा को प्रटेक्ट करे. तमिलनाडु के लोग पेरियार की मूर्ति और उनकी विचारधारा को प्रटेक्ट करने की ताकत रखते हैं.’ हासन ने मूर्ति तोड़ने की निंदा करते हुए कहा कि दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए. उन्होंने कहा, ‘मूर्ति तोड़ने के लिए जो भी दोषी हो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाए. मूर्ति तोड़ना मुख्य मुद्दों से ध्यान भटकाने की साजिश है.’

बता दें कि त्रिपुरा में लेनिन और तमिलनाडु में पेरियार की मूर्ति तोड़ने का आरोप बीजेपी से जुड़े लोगों पर लग रहे हैं. लगभग सभी बड़ी पार्टियों ने मूर्ति तोड़ने की घटनाओं की निंदा की है. मूर्ति तोड़ने की घटनाओं पर राज्यसभा में जमकर हंगामा हुआ.

इस बीच अमित शाह के के एक्टिव होने के बाद तमिलनाडु बीजेपी हरकत में आ गई है. राज्य के पार्टी प्रमुख टी सुंदरराजन ने आर मुथुरमन को पार्टी से निकाल दिया है. मुथुरमन को थिरूपाथूर में पेरियार की मूर्ति को क्षति पहुंचाने के आरोप में पुलिस ने गिरफ्तार किया है. तमिलनाडु में पेरियार की मूर्ति को नुकसान पहुंचाने के खिलाफ लेफ्ट पार्टियों ने चेन्नै में प्रदर्शन किया है.

उधर, कोलकाता में भी भारतीय जनसंघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी की मूर्ति को नुकसान पहुंचाया गया है. पुलिस ने इस मामले में 6 लोगों को हिरासत में लिया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here