राजन ने AAP के राज्यसभा ऑफर पर कहा- नो थैंक्स

0
193

नई दिल्ली. भारतीय रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने आम आदमी पार्टी की ओर से ऑफर की गई राज्यसभा सीट को ना कह दिया है. फिलहाल उनका अमेरिकी विश्वविद्यालय से छुट्टी लेकर भारत में राजनीति करने का कोई इरादा नहीं है. राजन की तरफ से यह सफाई अरविंद केजरीवाल की उस पेशकश के बाद आई है जिसमें पार्टी की तरफ से राजन को राज्यसभा भेजने की तैयारी में हैं.

रघुराम राजन की तरफ से यह सफाई उनके शिकागो युनिवर्सिटी ऑफिस से बुधवार को जारी की गई. सफाई में कहा गया, हालांकि प्रोफेसर रघुराम राजन भारत में शिक्षा से जुड़ी कई गतिविधियों में शामिल हैं लेकिन फिलहाल उनका शिकागो युनिवर्सिटी में अपनी फुल टाइम नौकरी छोड़ने का कोई इरादा नहीं है.

आम आदमी पार्टी ने दावा किया था कि वह रघुराम राजन से संपर्क में है और पेशकश की है कि राजन पार्टी की तरफ से राज्य सभा के सदस्य बनें. आम आदमी पार्टी को जनवरी 2018 तक अपने कोटे से राज्य सभा में तीन सदस्य भेजने हैं.
गौरतलब है कि रघुराम राजन 2005 में तब सुर्खियों में आए जब अंतरराष्ट्रीय मंच पर उन्होंने वैश्विक आर्थिक संकट की सटीक भविष्यवाणी की थी. इसके बाद 2008 में महज 40 साल की उम्र में राजन अंतरराष्ट्रीय मॉनिटरी फंड के प्रमुख चुने गए. आईएमएफ के वह सबसे युवा और पहले गैर-अमेरिकी गैर-यूरोपीय प्रमुख बने.

2012 में रघुराम राजन को भारत के तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने केन्द्र सरकार का प्रमुख आर्थिक सलाहकार नियुक्त किया और महज एक साल के अंदर उन्हें देश के केन्द्रीय बैंक की कमान सौंप दी गई.

raghuram rajan rejects aap offer

Tags: raghuram rajan, aam aadmi party, raghuram rajan rejects aap offer, rajya sabha, membership, hindi news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here