जनमत संग्रह ही कश्मीर समस्या का हल, शरीफ ने अलगाववादी आसिया अंद्राबी को लिखा पत्र

0
249

Nawaz Sharif Asiya Andrabi letterइस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने एक बार फिर कश्मीर का राग अलापा करते हुए कहा है कि जनमत संग्रह ही जम्मू-कश्मीर की समस्या का एकमात्र हल है। शरीफ ने अपनी यह राय अलगाववादी पार्टी दुख्तरान -ए-मिल्लत की मुख्या आसिया अंद्राबी को चिट्ठी लिखकर कही है। शरीफ ने अपनी चिट्ठी में कश्मीर मसले पर आसिया के रुख की जमकर तारीफ भी की है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि पाकिस्तान कश्मीर मुद्दे पर अपनी पोजिशन पर डटा रहेगा।

चिट्ठी में पाक पीएम ने और क्या लिखा?
रेडियो पाकिस्तान के मुताबिक, आसिया को लिखे खत में शरीफ ने कहा, ‘पाकिस्तान कश्मीर को एक भौगोलिक या सीमा का मसला नहीं मानता। वह इसे 1947 में बंटवारे के सिद्धांत के लागू होने का ‘विवाद’ मानता है। पाकिस्तान कश्मीर के लोगों को उनके आत्म निर्णय के अधिकार के संघर्ष के लिए यूएन की ओर से तय मानकों के मुताबिक नैतिक, राजनैतिक और कूटनीतिक समर्थन देता रहेगा।

नवाज ने लिखा कि, “मैं कश्मीर को लेकर आपके आइडिया और जज्बातों के लिए धन्यवाद देता हूं। अल्लाह मुझे भी उम्मीदों पर खरा उतरने की उतनी ही ताकत दे, जितना आप मेरे लिए और पाकिस्तान के लिए दिखाती हैं। कश्मीर को लेकर पाकिस्तान के स्टैंड पर आपके विश्वास से मैं पूरी तरह संतुष्ट हूं।”

शरीफ ने भारत पर दोहरे मापदंड अपनाने का आरोप लगाया। शरीफ के मुताबिक, भारत ने वल्र्ड कम्युनिटी से वादा किया था कि कश्मीरी लोगों को खुद का पॉलिटिकल फ्यूचर चुनने का अधिकार होगा। लेकिन भारत इससे मुकर गया है।

कौन है आसिया अंद्राबी?
आसिया अंद्राबी जम्मू-कश्मीर की अलगाववादी पार्टी हुर्रियत की महिला विंग ‘दुख्तरान-ए-मिल्लत’ की चीफ है। इस ऑर्गनाइजेशन का मकसद कश्मीर में इस्लामिक कानून लाना और इसे भारत से अलग करना है।

PM Nawaz Sharif Shows Support For Kashmiris’ Freedom Struggle

Tags: PM Nawaz Sharif, Asiya Andrabi, Nawaz Sharif Support For Kashmiris’ Freedom Struggle, PM Nawaz Sharif Asiya Andrabi latter, Hindi news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here