आने वाले दशकों में 140 साल तक जीवित रहेंगे लोग

0
372

दावोस (स्विट्जरलैंड). आने वाले दशकों में लोग 140 साल तक जीवित रह सकते हैं. एक्सपर्ट्स की मानें तो ऐसा चिकित्सा क्षेत्र में लगातार हो रहे बदलाव के चलते संभव हो सकेगा. इतना ही नहीं अस्पतालों का इस्तेमाल घटेगा और लोग सिर्फ आकस्मिक दुर्घटना के लिए अस्पतालों का रुक करेंगे.

दावोस में चल रही विश्व आर्थिक मंच की शिखर बैठक में स्वास्थ्य प्रौद्योगिकी पर एक परिचर्चा हुई. जिसमें कहा गया कि चिकित्सा के क्षेत्र में हो रही प्रगति के चलते आने वाले सालों में लोग डिजिटल टेक्नॉलजी पर आधारित कृत्रिम ज्ञान का प्रयोग कर अपने स्वास्थ्य का खुद प्रबंध करते हुए 140 वर्ष की आयु तक जीवित रह सकेंगे.

इस परिचर्चा के दौरान विशेषज्ञों ने कहा कि टेक्नॉलजी के इस उभरते परिदृश्य में अस्पतालों की भूमिका केवल आपात चिकित्सा कक्ष की रह जाएगी. माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला ने कहा कि डिजिटल टेक्नॉलजी आधारित चौथी औद्योगिक क्रांति चिकित्सा क्षेत्र को इस कदर बदल देगी कि कृत्रिम ज्ञान की प्रौद्योगिकी और डेटा से लैस चिकित्सा वैज्ञानिक तत्काल रोग के सर्वाेत्तम निदान ढूंढने में बड़े-बड़े दिग्ग्जों को पीछे छोड़ देंगे. अस्पतालों का प्रबंध भी डिजिटल प्रौद्योगिकी पर आधारित हो जाएगा. मेडिकल रिकार्ड तुरंत के तुरंत उपलब्ध हो सकेंगे.

इस सत्र के बारे में जारी आधिकारिक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि प्रौद्योगिकी और औषधियों के तालमेल से दुनिया स्वास्थ्य की दृष्टि से बेहतर हो रही है. विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘कुछ ही दशकों में लोग 140 वर्ष तक जी सकेंगे. अस्पताल आपात चिकित्सा कक्ष भर रह जाएंगे क्योंकि लोग अपनी बीमारी का प्रबंध खुद करने लगेंगे.‘

Tags: World Economic Forum Summit in Davos, debate on health technology, 140 years age, WES Summit Davos, Life span of people, 140 years life, Health Research, World news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here