नॉर्थ कोरिया ने फिर जापान के ऊपर से दागी मिसाइल, तनाव और बढ़ा

0
257

सोल. अंतरराष्ट्रीय दबाव के बीच नॉर्थ कोरिया ने एक बार फिर जापान के ऊपर से प्रशांत महासागर में बलिस्टिक मिसाइल दागा है. संयुक्त राष्ट्र द्वारा लगाए गए ताजा व्यापारिक प्रतिबंधों के जवाब में प्योंगयांग ने यह कार्रवाई की है. संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने इसी हफ्ते नॉर्थ कोरिया के बढ़ते मिसाइल प्रोग्राम और ऐटमिक हथियारों की वजह से बढ़ते तनाव के मद्देनजर अब तक के सबसे कड़े प्रतिबंध लगाए थे.

इस जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा है कि तोक्यो कभी भी नॉर्थ कोरिया के ऐसे खतरनाक और उकसाऊ गतिविधियों को बर्दाश्त नहीं करेगा, जिससे वैश्विक शांति को खतरा हो. आबे ने कहा कि अगर नॉर्थ कोरिया इसी रास्ते पर चलता रहा तो उसका भविष्य उज्जवल नहीं है. आबे ने सुरक्षा परिषद की आपात बैठक के आह्वान करने के साथ ही कहा है कि अब दुनिया के एक होने का समय आ गया है.

सुरक्षा परिषद ने शुक्रवार को ही आपात बैठक बुलाई है. यूएस पसिफिक कमांड ने पुष्टि कर दी है कि नॉर्थ कोरिया ने एक मध्यमवर्ती गति का बलिस्टिक मिसाइल प्रशांत महासागर में छोड़ा है. हालांकि, यह अमेरिका के सैन्य अड्डा माने जाने वाले गुआम या उत्तरी अमेरिका के लिए खतरा पैदा नहीं करता. दक्षिण कोरिया के रक्षा मंत्रालय के मुताबिक, मिसाइल ने 3 हजार 700 किलोमीटर की दूरी तय की और 770 किलोमीटर की अधिकतम ऊंचाई तक पहुंचा और फिर प्रशांत महासागर में गिर गया.

इंटरनैशनल इंस्टिट्यूट फॉर स्ट्रैटजिक स्टडीज के जोसेफ डेंपसी ने ट्विटर पर बताया कि इस मिसाइल परीक्षण के बाद यह स्पष्ट हो गया है कि उत्तर कोरिया सिर्फ गुआम को अपना निशाना नहीं बनाना चाहता. सिर्फ दो हफ्ते पहले ही नॉर्थ कोरिया ने ह्वासोंग-12 नाम के मिसाइल का जापान के ऊपर से परीक्षण किया था. जुलाई महीने में प्योंगयांग ने 2 अंतरमहाद्वीपीय मिसाइलों का टेस्ट किया था, जिसकी जद में अमेरिका था.

इसी महीने नॉर्थ कोरिया ने अपना छठा और सबसे शक्तिशाली परमाणु बम का परीक्षण किया था. प्योंगयांग ने दावा किया है कि यह हाइड्रोजन बम है जो कि मिसाइल में फिट हो सकता है. प्योंगयांग द्वारा लगातार हथियार विकसित करने के बाद से ही कोरियाई द्वीप के आसपास के क्षेत्रों में तनाव बरकरार है. इससे पहले अगस्त के आखिरी हफ्ते में भी उत्तर कोरिया ने जापान के ऊपर से मिसाइल छोड़ा था. जपानी सरकार ने तब दावा किया था कि यह मिसाइल उत्तरी जापान के ऊपर से उड़ते हुए समुद्र में जा गिरा था. इस परीक्षण के बाद से दोनों देशों के बीच तनाव बरकरार है.

North Korea again fired Missiles Over Japan, Tension increased

Tags: North Korea, Japan, Hydrogen Bomb, North Korea fire Missiles Over Japan, Tension increased, kim jong un, hindi news, Hindi Samachar, Latest Hindi news, news in hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here