Photos: कल जो भिड़ रहे थे, आज कैसे ‘एकजुट‘ हो गए

0
528

नई दिल्ली. संसद के बाहर बुधवार को अनूठा नजारा दिखाई दिया. जो नेता कल गुजरात में एक दिन पहले एक दूसरे पर तीखे जुबानी तीर छोड़ रहे थे वे एकजुट दिखाई दिए. पीएम नरेंद्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सहित तमाम सत्तापक्ष और विपक्ष के नेता एकाएक बदल गए और गर्मजोशी से एक दूसरे से मिल रहे थे.

दरअसल, ये एकजुटता दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के सबसे बड़े प्रतीक संसद पर आतंकी हमले की 16वीं बरसी पर जब शहादत को सम्मान के दौरान दिखाई दी. सारे नेता जुटे तो डिमॉक्रेसी और भी मजबूत नजर आई.

16 साल पहले 13 दिसंबर 2001 को आतंकियों ने देश की संसद को निशाना बनाया था. इस हमले की 16वीं बरसी पर मोदी और राहुल के साथ ही पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, सोनिया गांधी, बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी समेत सत्ता व विपक्ष के कई बड़े नेता भारतीय जवानों की शहादत को सम्मान देने के लिए एक साथ खड़े नजर आए.

2001 में संसद पर हुए आतंकी हमलों में दिल्ली पुलिस के 5 जवान, सीआरपीएफ की एक महिला अधिकारी, संसद के 2 सुरक्षाकर्मी और एक माली शहीद हुआ था. लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने संसद में विस्फोट कर सांसदों को बंधक बनाने की साजिश रची थी. देश के बहादुर जवानों ने अपनी जान की बाजी लगाकर आतंकियों के नापाक मंसूबों को कामयाब नहीं होने दिया.

जिस दौरान संसद पर हमला हुआ उस समय शीतकालीन सत्र चल रहा था. देश के जनप्रतिनिधि संसद में ही मौजूद थे. बाद में इस हमले के मास्टरमाइंड अफजल गुरु को फांसी की सजा सुनाई गई थी. अफजल गुरु को 9 फरवरी 2013 को तिहाड़ जेल में फांसी पर लटका दिया गया था.

Leaders Paid Tribute To The Bravehearts Who Died In Parliament Attack

Tags: Parliament Attack, Tribute, Who Died In Parliament Attack, Leaders Paid Tribute To The Bravehearts of Parliament Attack, Narendra Modi, Rahul Gandhi, Latest Hindi News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here