कांग्रेस ने राज्यसभा में PM घेरा, कहा- ‘अगर सदन का महत्व नहीं है तो इस बंद कर दें’

0
342

Kashmir Crisis Debit in Rajya Sabhaनई दिल्ली: कश्मीर के हालात पर बुधवार को कांग्रेस ने राज्यसभा में प्रधानमंत्री को घेरा. इस मुद्दे पर चर्चा करते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और प्रतिपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि अगर आपकी नजर में सदन का महत्व नहीं है तो इस बंद कर दें. उन्होंने कहा कि संसद में दलित उत्पीड़न की चर्चा हुई, कश्मीर पर चर्चा हुई, लेकिन पीएम ने कभी भी सदन में इस पर बयान नहीं दिया, बल्कि वे मध्यप्रदेश से कश्मीर के हालातों पर बोले.’

आजाद ने कहा इससे पहले इस सदन में भी कश्मीर के हालात को लेकर चर्चा हुई. हमने मांग की थी कि पीएम जोकि खुद सत्र के दौरान सुबह 10 या साढ़े दस बजे आकर संसद में अपने कमरे में बैठते हैं. लेकिन वे दोनों सदनों से इतने नजदीक होकर भी उनसे सबसे ज्यादा दूर हैं. उनके कमरे से लोकसभा और राज्यसभा में आने में चंद सेंकेड/मिनट लगते हैं, लेकिन उनके न आने के चलते यह दूरी कई हजार किलोमीटर बन जाती है.’

आजाद ने आगे कहा कि ‘हमने बार-बार कहा कि इस चर्चा के दौरान पीएम सदन में आएं, लेकिन उन्होंने मध्य प्रदेश से यह मुद्दा उठाया, न कि संसद में आकर.’ हालांकि इस दौरान आजाद ने कहा कि ‘मैं कहना नहीं चाहता लेकिन, जबसे आप कश्मीर में आए हैं, वहां आग लग गई.’ इस पर सत्ता पक्ष के सदस्यों ने नाराज होकर जमकर हंगामा किया. वित्त मंत्री अरुण जेटली के समझाने के बाद ही सदस्य शांत हुए और चर्चा आगे बढ़ी.

उन्होंने आगे कहा कि ‘कश्मीर को केवल वहां की खूबसूरती के लिए प्यार मत करो, बल्कि वहां के लोगों से भी प्यार कीजिए.’

वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने कहा कि ‘हमारी मंशा कश्मीर में पिछले 32-33 दिन से लागू कर्फ्यू को गंभीरता से लेने और हिंसा में मारे गए और जख्मी हुए लोगों के अलावा सुरक्षा बल के जवानों के प्रति संवेदना जताने की है. आजाद ने सदन में कहा कि ‘ हम तमाम राजनीतिक दलों को कश्मीर के लोगों के दर्द में शामिल होना चाहिए और पूरे सदन को अपील करनी चाहिए कि वो मिलकर कश्मीर में अमन बहाल करें.

Tags: Kashmir Crisis, Ghulam Nabi Azad, Kashmir Elections 2014, Parliament, PM Narendra Modi, Kashmir Crisis Debit in Rajya Sabha, Hindi News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here