FIFA: फुटबॉलर जैक्सन सिंह ने इतिहास रचा

0
261

खेल डेस्क. जैक्सन सिंह थौनाओजाम फीफा वर्ल्ड कप के किसी भी फॉर्मेट में गोल करने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं. जैक्सन ने फीफा अंडर-17 वर्ल्ड कप में सोमवार को कोलंबिया के खिलाफ गोल दागकर ये रिकॉर्ड अपने नाम किया है. भारत की मेजबानी में दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में खेला जा रहा मैच रोमांचक मोड़ पर था. जैक्सन ने मेहमान टीम के खिलाफ 82 वें मिनट में गोल दागकर 1-1 से बराबरी कर ली. इसके बाद कोलंबिया टीम दबाव में आ गई. भारत की लगातार दूसरी हार जरूर हुई लेकिन इस बीच मणिपुर का एक सितारा चमका जिससे आने वाले मैचों में सभी को बहुत उम्मीदें हैं.

मणिपुर के थोउबल जिले के हाओखा ममांग गांव में जन्मे 6 फीट 2 इंच के जैक्सन के लिए यहां तक पहुंचना आसान नहीं था. उनके पिता कोंथुआजम देबेन सिंह को 2015 में लकवा मार गया और उन्हें मणिपुर पुलिस की अपनी नौकरी छोड़नी पड़ी. परिवार का खर्च मां के ऊपर आ गया. वे रोज 25 किलोमीटर दूर इम्फाल के ख्वैरामबंद बाजार में जाकर सब्जी बेचती और घर का खर्च चलातीं. बेटों को खेल के लिए प्रोत्साहित करती रहतीं क्योंकि वे भी बॉस्केट बॉल प्लेयर रही हैं. जैक्सन के बड़े भाई जोनिचंद सिंह कोलकाता प्रीमियर लीग में पीयरलेस क्लब के लिए खेलते हैं.

जैक्सन के पिता देबेन हरफनमौला खिलाड़ी थे. मणिपुर के कुछ क्लब्स के लिए उन्होंने फुटबॉल खेला था. उन्होंने ही जैक्सन और भारतीय अंडर-17 टीम के कप्तान अमरजीत सिंह कियाम को शुरुआती ट्रेनिंग दी थी. बाद में जैक्सन को चंडीगढ़ फुटबॉल एकेडमी भेजा गया और यहां उन्होंने अपने फुटबॉल की बारीकियां सीखीं. कुछ समय तक यहां चंडीगड़ एकेडमी के लिए खेला और फिर यहां से मिनर्वा एफसी में शामिल हो गए.

भारत की अंडर-17 टीम में शामिल होने के लिए उन्हें पूर्व कोच निकोलाई एडम से कई बार रिजेक्शन मिला लेकिन हार नहीं मानी.

India’s Jeakson Thounaojam celebrates after scoring India’s first goal during  the FIFA U-17 World Cup 2017

Tags: Jackson singh, FIFA U-17 Word Cup, FIFA U-17 Word Cup 2017, India vs Colombia, FIFA, Indian Football U-17 team, Jeakson Thounaojam, Hindi News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here