फिल्म रिव्यूः सचिन- ए बिलियन ड्रीम्ज

0
1103

फिल्मः सचिन- ए बिलियन ड्रीम्ज
किरदारः सचिन तेंदुलकर, अर्जुन तेंदुलकर, अंजली तेंदुलकर, सारा तेंदुलकर, मयुरेश पेम
निर्देशकः जेम्स अर्स्किन
निर्माताः रवि भागचंदक, श्रीकांत भासी
अवधिः 138 मिनट
स्टारः साढ़े तीन स्टार

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के जीवन पर बनी फिल्म ’सचिन- ए बिलियन ड्रीम्ज़’ शुक्रवार को रिलीज हो गई. ये फिल्म न तो यह फीचर फिल्म है और न डाक्यूमेंट्री. भारतीय क्रिकेट के के श्रेष्ठ खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर के खेल जीवन के प्रसंगों और लाइव फुटेज को जोड़ कर बनाई गई यह फिल्म एक खिलाड़ी के समर्पण, लगन और जीवन का परिचय देती है.

खेल प्रेमी खास कर क्रिकेट प्रेमी सचिन के बारे में सब कुछ जानते हैं. यह फिल्म सचिन के मैचों के फुटेज से वैसा ही रोमांच पैदा करती है. फिल्म देखते हुए वे पल याद आ जाते हैं, जब सचिन मैदान में थे और हम-आप स्टेडियम या अपने घर में बैठे मैच का आनंद ले रहे थे. लाइव में तो हार-जीत की अग्रिम जानकारी नहीं रहती. लेकिन पूर्व जानकारी के बावजूद रोमांच कम नहीं होता. फिर से तालियां बज जाती हैं. आपका मन भी सिनेमाघर में हर्ष से चिल्लाने का करेगा.

हालांकि इस फिल्म पर थोड़ी और मेहनत की की गुंजाइश है. हो सकता है सचिन की तरफ से निर्माता-निर्देशक को भरपूर सहयोग नहीं मिला. सचिन ने अपना नैरेशन एक ही दिन में पूरा कर दिया है. शिवाजी पार्क, बच्चों के साथ चुहल, अंजलि से मुलाकात और फायनली वर्ल्ड कप की जीत के प्रसंगों में सचिन सहज और सरल हैं. अन्यथा यों लगता है कि मैच समाप्त होने के बाद फौरी इंटरव्यू् दे रहे हों और जल्दी से लौटना चाहते हों. मध्यवर्गीय परिवार के सचिन तेंदुलकर की जीवन शैली समृद्ध हो चुकी है, लेकिन उनके मूल्यि अभी तक मध्यवर्गीय हैं. एक दृश्य में जब वे अपने बेटे को लेकर प्रैक्टिस के लिए उतरते हैं तो वहां अचीवर और प्राउड पापा की फीलिंग देते हैं.

अपने पिता को याद करते समय वे हमेशा भावुक हुए हैं. भाई अजीत और कोच आचरेकर को वे कभी नहीं भूलते. किसी न किसी बहाने उनका जिक्र करते समय अपनी कृतज्ञता जाहिर करते रहते हैं. भारत रत्न से सम्मानित कद्दावर व्यक्तित्व के इस खिलाड़ी के प्रति फिल्म न्यात नहीं करती. सचिन के जीवन पर एक बड़ी फिल्म तो बननी ही चाहिए. यह फिल्म उनकी कामयाबी में परिवार की भूमिका की झलक भर देती है. सचिन बनने की प्रक्रिया पर ज्यादा जोर नहीं है. यह सचिन बन जाने की कहानी है.

Tags: Film Review, Sachin Tendulkar, Sachin A Billion Dreams, film review sachin a billion dreams, Bollywood, Hindi News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here