भारत ने चीन से जुड़े 1400 किमी लंबे सिक्किम-अरुणाचल बोर्डर पर सेना बढ़ाई

0
573

नई दिल्ली. भारत ने चीन से जुड़े सिक्किम और अरुणाचल प्रदेश के 1400 किलोमीटर लंबे सिनो-इंडिया बॉर्डर पर सैनिकों की तैनाती बढ़ा दी है. सरकार के मुताबिक, देश की पूर्वी सरहद पर फौज के लिए अलर्ट लेवल बढ़ा दिया गया है. सूत्रों के मुताबिक 45 हजार सैनिकों को अलर्ट पर रखा गया है. यह घटनाक्रम ऐसे वक्त हुआ है जब बीते एक महीने से भी ज्यादा वक्त से डोकलाम को लेकर भारत का चीन के साथ विवाद चल रहा है. चीन लगातार भारत से पीछे हटने को कह रहा है, जबकि भारत का कहना है कि चीन हमारे इलाके में घुसपैठ कर रहा है. डोकलाम में भारत के 350 सैनिक जमे हुए हैं. बता दें कि डोकलाम भारत-चीन-भूटान का ट्रायजंक्शन है.

क्या है मौजूदा विवाद ?
चीन सिक्किम सेक्टर के डोकलाम इलाके में सड़क बना रहा है. डोकलाम के पठार में ही चीन, सिक्किम और भूटान की सीमाएं मिलती हैं. भूटान और चीन इस इलाके पर दावा करते हैं. भारत भूटान का साथ देता है. भारत में यह इलाका डोकलाम और चीन में डोंगलोंग कहलाता है.

चीन ने जून की शुरुआत में यह सड़क बनाना शुरू किया. भारत ने विरोध जताया तो चीन ने घुसपैठ कर दी. चीन ने भारत के दो बंकर तोड़ दिए. तभी से तनाव है.

दरअसल, सिक्किम का मई 1975 में भारत में विलय हुआ था. चीन पहले तो सिक्किम को भारत का हिस्सा मानने से इनकार करता था. लेकिन 2003 में उसने सिक्किम को भारत के राज्य का दर्जा दे दिया. हालांकि, सिक्किम के कई इलाकों को वह अपना बताता रहा है.

क्यों चीन को रोकना जरूरी है?
चीन जहां सड़क बना रहा है, उसी इलाके में 20 किमी हिस्सा सिक्किम और पूर्वाेत्तर राज्यों को भारत के बाकी हिस्से से जोड़ता है. यह ‘चिकेन नेक’ भी कहलाता है. चीन का इस इलाके में दखल बढ़ा तो भारत की कनेक्टिविटी पर असर पड़ेगा. भारत के कई इलाके चीन की तोपों की रेंज में आ जाएंगे. अगर चीन ने सड़क को बढ़ाया तो वह न सिर्फ भूटान के इलाके में घुस जाएगा, बल्कि वह भारत के सिलीगुड़ी कॉरिडोर के सामने भी खतरा पैदा कर देगा. दरअसल, 200 किमी लंबा और 60 किमी चौड़ा सिलीगुड़ी कॉरिडोर ही पूर्वाेत्तर राज्यों को भारत के बाकी राज्यों से जोड़ता है. इसलिए भारत नहीं चाहेगा कि यह चीन की जद में आए.

 Doklam Row: Caution Level Among The Troops In The Eastern Border With China Raised

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here