अखिलेश यादव 5 साल के लिए निर्विरोध सपा अध्यक्ष चुने गए

0
294

आगरा. समाजवादी पार्टी का राष्ट्रीय अधिवेशन में अखिलेश यादव को पार्टी का निर्विरोध राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया. ये अधिवेशन गुरुवार को आगरा में हुआ. इसमें आने के लिए मुलायम सिंह यादव को न्योता दिया था, लेकिन वे नहीं पहुंचे. पहले खबरें आ रही थी कि वे पहुंच सकते हैं. अखिलेश को अगले 5 साल के लिए राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया है. अधिवेशन में देश भर से करीब 15 हजार पार्टी पदाधिकारियों ने हिस्सा लिया.

10 महीने बाद सपा अध्यक्ष पद पर अखिलेश के नाम पर दोबारा मुहर लगी है. अखिलेश पहली बार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एक जनवरी 2017 को बने थे. तब सपा महासचिव रामगोपाल यादव द्वारा बुलाए गए राष्ट्रीय अधिवेशन में मुलायम सिंह को सपा के संरक्षक की भूमिका दी गई थी. वहीं, झगड़े की जड़ माने जा रहे राष्ट्रीय महासचिव अमर सिंह को पार्टी से निकाल दिया गया था, जबकि शिवपाल यादव को सपा के प्रदेश अध्यक्ष पद से हटा दिया गया था.

समाजवादी पार्टी की स्थापना 4 नवंबर 1992 को हुई थी, तब से ही मुलायम सिंह पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष थे.

अधिवेशन में हिस्सा लेने के लिए अखिलेश यादव और डिंपल यादव बुधवार को आगरा पहुंचे थे, जबकि रामगोपाल 3 अक्टूबर को ही पहुंच गए थे.

28 सितंबर को मुलायम सिंह से मिलकर अखिलेश ने उन्हें आगरा के राष्ट्रीय अधिवेशन में आने का न्योता दिया था, लेकिन अधिवेशन में मुलायम नहीं पहुंचे.

मुलायम ने आगरा चलने को कहा, शिवपाल ने किया इनकार
बुधवार को शिवपाल ने मुलायम से मुलाकात की थी. सूत्रों के मुताबिक, मुलायम ने ही शिवपाल को अपने आवास पर बुलाया था. नेता जी ने शिवपाल से अधिवेशन में चलने को कहा, लेकिन उन्होंने मना कर दिया. कहा ये भी जा रहा है कि नाराज चल रहे शिवपाल ने लोहिया ट्रस्ट से भी इस्तीफे की पेशकश की है.

इस बीच, मुलायम ने शिवपाल से कहा है कि वो उन्हें पार्टी में महासचिव की कुर्सी दिला देंगे और वे दिल्ली में पार्टी का काम देखेंगे, लेकिन शिवपाल ने इससे इनकार कर दिया है.

नई पार्टी के एलान से ऐन वक्त पर पलटे मुलायम
बता दें कि 25 सितंबर को मुलायम सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस किया था. इसमें उन्हें समाजवादी पार्टी से अलग होकर नई पार्टी बनाने का एलान करना था, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया. उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस में नई पार्टी बनाने वाले प्रेस नोट को पढ़ा ही नहीं. इसके उलट उन्होंने कहा कि मैं कोई नई पार्टी नहीं बना रहा हूं. इससे पहले खबरें आई थीं कि मुलायम अखिल भारतीय समाजवादी पार्टी का एलान कर सकते हैं.

दरअसल, समाजवादी पार्टी में फूट के बाद दो गुट बन गए हैं. एक गुट मुलायम और उनके छोटे भाई शिवपाल यादव का है, तो दूसरा गुट अखिलेश और मुलायम के चचेरे भाई रामगोपाल यादव का है.

Akhilesh Yadav Elected As Samajwadi Party President, SP National Convention Agara

Tags: Akhilesh Yadav, Akhilesh Yadav SP President, Akhilesh Yadav Elected As Samajwadi Party President, Mulayam Singh, SP National Convention, Samajwadi Party National Convention 2017, Hindi News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here