10 घंटे चला हाई वॉल्टेज ड्रामा, आखिरकार अहमद पटेल जीते

0
237

नई दिल्ली. 10 घंटे तक चले हाई वॉल्टेज ड्रामे के बाद रात 1.30 बजे गुजरात राज्यसभा चुनाव के नतीजे घोषित कर दिए गए. कांग्रेस के चाणक्य कहे जाने वाले अहमद पटेल ने जीत दर्ज करते हुए राज्यसभा में अपनी जगह बरकरार रखी है. पटेल को कुल 44 वोट मिले. वहीं बीजेपी की ओर से अमित शाह और स्मृति ईरानी ने भी राज्यसभा में पहुंच गए हैं. स्मृति ईरानी को 46, अमित शाह को 46 और बलवंत सिंह राजपूत को 38 वोट मिले.

इससे पहले मतदान के दौरान कांग्रेस के दो बागी विधायकों द्वारा बीजेपी नेताओं को अपना मतपत्र दिखाने के बाद जमकर बवाल मच गया. कांग्रेस ने इस पर आपत्ति जताई और निवार्चन अधिकारी से दोनों के वोट रद करने की मांग की. लेकिन निर्वाचन अधिकारी ने जब कांग्रेस की मांग को अनसूना किया तो मामला चुनाव आयोग तक पहुंचा. कांग्रेस और बीजेपी के शीर्ष नेताओं का प्रतिनिधि मंडल एक के बाद एक छह बार चुनाव आयोग से मिला. इसके बाद चुनाव आयोग ने वीडियो रिकोर्डिंग देखकर दोनों के वोट रद कर दिए. बाद में मतगणना हुई और नतीजे घोषित किए गए.

गणित गड़बड़ाने से बवाल
कुल 176 वोट पड़े, आयोग ने 2 रद किए और 1 सीट जीतने के लिए चाहिए थे 44 वोट. अहमद पटेल को 44 वोट मिल गए. बीजेपी 121 विधायकों के बल पर अमित शाह व स्मृति ईरानी को जीताने में कामयाब रही. उसके तीसरे प्रत्याशी बलवंत सिंह राजपूत पटेल से हार गए.

इसलिए रद हुए वोट
राज्य सभा चुनाव गोपनीय, लेकिन खुले पत्र के जरिए होते हैं. मतदाता विधायकों को वोट देने के बाद मतपत्र अपनी पार्टी के अधिकृत एजेंट को दिखाना पड़ता है, लेकिन कांग्रेस के दो बागियों- राघवजी भाई पटेल व भोला पटेल ने बीजेपी नेताओं को मतपत्र दिखा दिए. उनकी यह गलती भाजपा को भारी पड़ी.

यूं चला ड्रामा
शाम 4 बजेः वोटिंग के दौरान कांग्रेस के दो बागी विधायकों ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को कथित रूप से वोट दिखाया.
शाम 5 बजेः कांग्रेस के चुनावी एजेंट शक्ति सिंह गोहिल व अर्जुन मोढवाडिया ने तत्काल इसे मुद्दा बनाया. रिटर्निग अधिकारी व चुनाव आयोग को शिकायत की.
शाम 6 बजेः दिल्ली में कांग्रेस के दिग्गज नेताओं ने शाम 6 बजे से 9 बजे के बीच तीन बार चुनाव आयोग पर दस्तक दी. दो बागियों के वोट रद करने की मांग की.
शाम 7 बजेः बीजेपी के नेता व केंद्रीय मंत्रियों की टीम भी कांग्रेस नेताओं के पीछे-पीछे तीन बार चुनाव आयोग पहुंची. तत्काल मतगणना की मांग की.
रात 10.30 बजेः चुनाव आयोग ने घंटों बैठक के बाद रात 11.30 बजे शिकायत पर फैसले का वक्त तय किया.
रात 11.30 बजेः चुनाव आयोग ने दोनों विधायकों के वोट रद कर मतगणना का आदेश दिया.
रात 1.45 बजेः नतीजों का ऐलान किया गया.

जीत के बाद अहमद पटेल ने ट्वीट किया और कहा- सत्यमेव जयते. पटेल ने कहा कि यह सिर्फ मेरी जीत नहीं है. यह सत्ता, पैसे और स्टेट मशीनरी के दुरुपयोग की सबसे जबरदस्त हार है. मैं हर एक विधायक को धन्यवाद देना चाहता हूं, जिन्होंने धमकी और बीजेपी के दबाव के बावजूद मेरे लिए वोट डाले. उन्होंने एक समावेशी भारत के लिए मतदान किया. भाजपा का व्यक्तिगत प्रतिशोध और राजनैतिक आतंकवाद का पर्दाफाश हो गया है. गुजरात के लोग इस साल के चुनाव में उन्हें सही उत्तर देंगे.

10 विधायकों ने की क्रॉस वोटिंग
कांग्रेस के सात बागियों के अलावा राकांपा के दो और जदयू के एकमात्र विधायक छोटू वसावा ने दूसरे दलों को वोट दिए. वहीं एक निर्दलीय सोमवार रात ही बीजेपी में शामिल हो गए थे.

Tags: amit shah, smriti irani, ahmed patel, gujarat rajya sabha polls, ahmed patel win gujarat rajya sabha polls, ahmed patel win, hindi news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here