बजट से ‘आहत’ चंद्रबाबू छोड़ेंगे बीजेपी का साथ, इमर्जेंसी मीटिंग बुलाई

0
287

नई दिल्ली. आम बजट में आंध्र प्रदेश की उपेक्षा से आहत केंद्र सरकार सहयोगी तेलुगू देशम पार्टी (टीडीपी) ने बीजेपी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. पार्टी के अध्यक्ष और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू ने शुक्रवार को पार्टी की इमर्जेंसी मीटिंग बुलाई है. उधर, पार्टी के एक सांसद ने बीजेपी के खिलाफ ‘वॉर’ छेड़ने की घोषणा कर दी.

नायडू की बैठक में यह तय होगा कि केंद्र और राज्य में एनडीए के साथ गठबंधन जारी रखा जाए या फिर तोड़ दिया जाए. पहले ही चंद्रबाबू नायडू यह संकेत दे चुके हैं कि वह एनडीए से दोस्ती खत्म कर सकते हैं. चंद्रबाबू नायडू ने इस मीटिंग को लेकर दिल्ली में गुरुवार को अपने सांसदों से टेलिकॉन्फ्रेंस के जरिए बातचीत की. रविवार को टीडीपी के संसदीय बोर्ड की मीटिंग भी होनी है.

टीडीपी के सांसद टीजी वेंकटेश ने शुक्रवार को कहा, ‘हम बीजेपी के खिलाफ वॉर की घोषणा करने जा रहे हैं. हमारे पास तीन ही विकल्प हैं. पहला कि एनडीए के साथ बने रहे, दूसरा हमारे सांसद इस्तीफा दें और तीसरा गठबंधन से बाहर निकल जाएं. हम रविवार को सीएम नाडयू के साथ बैठक में फैसला करेंगे.’ बता दें कि कुछ दिन पहले एनडीए और बीजेपी की पुरानी सहयोगी शिवसेना ने भी 2019 का आम चुनाव अलग लड़ने की घोषणा कर चुकी है.

बीजेपी पर बिफरी टीडीपी
सूत्रों के मुताबिक, चंद्रबाबू नायडू ने टीडीपी सांसदों से कहा कि बजट में आंध्र प्रदेश के लिए फंड के आवंटन से वह बेहद असंतुष्ट हैं. यह बीजेपी को तय करना है कि वह इस फैसले का कैसे बचाव करती है. हमलोग प्रदेश की जनता को बताएंगे कि कैसे बजट में आंध्र प्रदेश की पूरी तरह उपेक्षा की गई.

नायडू ने सांसदों से कहा कि आंध्र प्रदेश की जनता से साथ हुए ‘अन्याय’ का जवाब बीजेपी के साथ गठबंधन तोड़कर ही दिया जा सकता है. हालांकि, चंद्रबाबू ने कहा कि वह बजट सेशन तक प्रतीक्षा करने को पक्षधर हैं और पार्टी को भी इस सत्र तक का इंतजार करना चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here